रेलवे अंडर ब्रिज में बने गहरे गड्ढे लोगों के लिए बने समस्या,

 रेलवे अंडर ब्रिज में बने गहरे गड्ढे लोगों के लिए बने समस्या, 


प्रशासन द्वारा एस्टीमेट की आधी राशि मंजूरी के बाद भी नहीं हुआ समाधान




डेराबस्सी, मुबारकपुर रेलवे अंडरब्रिज आजकल लोगों के लिए मुसीबत बना हुआ है। अंडर ब्रिज की जर्जर हालत और सड़कों में बने गहरे गड्ढों के कारण आज एक कार और एक जीप खराब हो गई और लंबा जाम लग गया। वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पानी से भरे गहरे गड्ढों में जहां छोटी गाड़ियां फंस रही हैं, वहीं रोजाना जाम की स्थिति बन रही है, वहीं भारी वाहन गहरे गड्ढे में गिरकर क्षतिग्रस्त हो रहे हैं। इसके अलावा दोपहिया वाहन, रिक्शा, रिक्शा चालक अब अंडर ब्रिज से गुजरने से परहेज करने लगे हैं। जिससे स्थानीय लोगों में प्रशासन के खिलाफ काफी रोष है।


 लोगों का कहना है कि 6 फरवरी को मुख्यमंत्री भगवंत मान ने अपने दौरे के दौरान भांखरपुर गांव में घोषणा की थी कि मुबारकपुर अंडर ब्रिज की मरम्मत के लिए पौने दो करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं।  जिसका कार्य जल्द ही शुरू कर दिया जाएगा। लेकिन अभी भी समस्या जस की तस बनी हुई है।

आज सुबह एक कार और एक लोडर महिंद्रा पिकअप जीप अंडरब्रिज के बीच गड्ढे में फंस गई, जिससे कई घंटों तक जाम लगा रहा।  जिससे सैकड़ों वाहन चालकों को तीन किलोमीटर की अतिरिक्त दूरी तय कर अपने गंतव्य तक पहुंचने को मजबूर होना पड़ा।

गौरतलब है कि पिछले साल 15 नवंबर 2023 को डिप्टी कमिश्नर मोहाली की ओर से समाचार पत्रों के माध्यम से एक बयान जारी किया गया था जिसके माध्यम से उन्होंने बताया कि रेलवे अंडर ब्रिज की मरम्मत के लिए जिला प्रशासन की ओर से लोक निर्माण विभाग को 60 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई है। उन्होंने बताया था कि अंडर ब्रिज की मरम्मत के लिए लोक निर्माण विभाग द्वारा 1 करोड़ 20 लाख रुपये का एस्टीमेट तैयार किया गया है  जिसके लिए प्रशासन की ओर से अपने हिस्से की आधी राशि मंजूर कर दी गई है। अंडर ब्रिज की मरम्मत के लिए धनराशि स्वीकृत होने के तीन माह बाद भी जिला प्रशासन व लोक निर्माण विभाग अंडर ब्रिज की मरम्मत का कार्य शुरू कराने में विफल साबित हो रहा है।  जिसके चलते स्थानीय लोगों में प्रशासन और राज्य सरकार के खिलाफ भारी रोष 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ